सो कर उठने की दुआ | Subah Uthne ki Dua in Hindi

अस्सलाम अलैकुम दोस्तों Sone se Pehle ki Dua सिखने और याद करने के बाद आज Subah Uthne ki Dua सिखने वाले है।

जिसमे आपको Sokar Uthne ki Dua तिन भाषा में सिखाने वाले है यानि जब आपकी आंख सुबह के वक़्त खुलता है तो नींद से बेदार की दुआ भी होता है। जिससे सिखने के लिए आप सब इस वेबसाइट पर तसरीफ लाये है।

दोस्तों आज के दौर में भी सोशल मीडिया में आप सुबह उठने की फायदा जरुर सुना होगा लेकिन जरा सोंचे आपकी दिन की शुरू अल्लाह के कलाम से हो तो कितना बेहतरीन होगा।

नाज़रीन चलिए सीखते है Subah Uthne ki Dua In english क्या है? और इसको कैसे याद करना चाहिए।

Subah Uthne ki Dua

Subah Uthne ki Dua

नाज़रीन सोने से पहले बहुत सारी दुआ और अज्कार किया जाता है जो मैंने पहले से इसी वेबसाइट पर बता दिया है। ठीक इसी तरह सुबह उठने की भी बहुत सारी दुआ, अज्कार और आयात होते है।

जिसमे से यहाँ पर कुछ दुआ बताया जायेगा जिसको याद करने और सिखने में भी बहुत आसान रहेगा।

यहाँ पर Subah Sokar Uthne ki Dua अरबी, हिंदी और इंग्लिश भाषा में लिखा गया है जिससे आसानी से कोई भी शख्स पढ़कर याद कर सकता है।

सुबह सोकर उठने की दुआ हिंदी में

अल्हम्दुलिल्लाहिल्लज़ी अहयाना बअदा मा अमातना व इलाइहिन नुशूर।

Subah Uthne ki Dua in English

Alhamdulillahillazi ahyana ba’da ma amatana wa ilaihin nushoor.

सुबह उठने की दुआ तर्जुमा के साथ

तमाम तारीफें अल्लाह के ही लिए है जिसने हमें मौत के बाद (सोने के बाद) ज़िन्दगी दी और हमें उसी की तरफ लौटना है।

Dua for Waking Up From Sleep

Dua for Waking Up From Sleep

All Praise onto Allah (Almighty) Who granted us life after death (Sleep) and we are return to him.

सोकर उठने के आदाब

  • सबसे पहले आँख खुलने पर दोनों बिस्मिल्लाह पढे
  • उसके बाद दोनों हाथों से आँख मले
  • इसके बाद सुबह उठने की दुआ को पढे जो हमे ऊपर इस पोस्ट मे बताई है
  • फिर बेतुल खला यानि वाश्रूम मे दुआ पढ़ कर दाखिल हो जाए
  • फारिग होने के बाद जरूरत हो तो गुसल करे नहीं तो वुजू बनाए
  • वुजू बनाने के बाद अगर फ़जर की नमाज़ का टाइम हो रहा है तो मस्जिद के लिए जाना चाहिए
  • मस्जिद मे दाखिल होने से पहले दुआ पढे और सीधे पैर से दाखिल हो जाए
  • उसके बाद २-२ रक्त नमाज़ तहतुल वुजू और तहतुल मस्जिद के अदा करे अगर नमाज़ मे टाइम बाकी है
  • इसके बाद अपनी फ़जर की नमाज़ की सुन्नत अदा करे
  • फिर इमाम के पीछे अपनी फ़जर नमाज़ अदा करे
  • नमाज़ के बाद कुरान मजीद की तिलवात करे
  • कुरान मजीद की तिलावत के बाद इशराक की नमाज़ अदा करे
  • इसके बाद अपने दुनियावी कामों को लिए प्लान बनाए।

दुआ पढ़ने का तरीका

  • जब आप सुबह उठें, तो सबसे पहले अपने हाथ धो लें आसानी हो तो आप वुजू भी बना सकते है।
  • फिर, क़िबला की तरफ मुंह करके खड़े हो जाएं।
  • इस दुआ को तीन बार पढ़ें।
  • इसके बाद, आप अपनी ज़रूरतों और इच्छाओं के अनुसार अल्लाह से दुआ कर सकते हैं।

दुआ पढ़ने की फ़ज़ीलत

दोस्तों दीन की बातों पर अमल करना और दीन पर चलने मे बहुत फायेदा है, और जिससे हमे दुनिया और आखिरत मे फायेदा हासिल होता है।

  • अल्लाह का शुक्रगुजार करने का एक तरीका।
  • दिन भर के लिए नेकी के काम करने और हिफाजत मांगने का एक तरीका।
  • शेतानी वासवसों और भावनाओं से दूर रहने का एक तरीका।
  • दुआ को पढ़ने से इनशाल्लाह पूरा दिन मे हर काम आसान हो जाएगा।

आज अपने क्या सीखा?

दोस्तों आज हमे इस पोस्ट की मदद से जाना की सोने की दुआ क्या होती है और इस दुआ की कितनी ज्यादा फ़ज़ीलत है, इस दुआ आप किसी भी भाषा हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू तीनों मे से किसी मे भी याद कर सकते है।

नाज़रीन मुझे उम्मीद है की आप सभी हज़रात ने सोने की दुआ को याद कर लिया होगा फिर सुबह उठते वक़्त की दुआ भी याद कर लिया होगा।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment