Rizk Ki Dua | रिज्क की दुआ हिन्दी, इंग्लिश और अरबी

अस्सलामु अलैकुम नाज़रीन, उम्मीद है आप सब अच्छे से होंगे आज हम आपकी खिदमत मे बहुत ही अहम और कारगर दुआ लेकर आए है जो रिज्क मे बढ़ोतरी के लिए है Rizk Ki Dua लेकर आया हूँ और कितने फायदे है आइए जानते है।

इस दुआ को पढ़कर आप रिज्क के साथ साथ इल्म मे भी बढ़ोतरी के लिए आप इस दुआ को पढ़ सकते है।

Rizk ki Dua

Rizk ki Dua In Hindi

दोस्तों इस दुआ को आप रिज्क की बढ़ोतरी के साथ साथ इल्म मे बढ़ोतरी के लिए भी पढ़ सकते है उसके लिए आप इस हदीस से समझ सकते है।

उम्मे सलमा (र.अ.) से रिवायत है के, रसूलअल्लाह (ﷺ) जब सूबाह की नमाज़ में सलाम फेरते तो उसके बाद ये दुआ पढ़ते: “अल्लाहुम्मा ईन्नी असलुका ईल्मन नाफिआ, व रिज़कना तैय्यबा वा अमलन मुतक़ब्बला” (ऐ अल्लाह ! मैं तुझसे नफा देने वाले इल्म और पाकीज़ा रिज़्क़ और क़बूल होने वाले अमल का सवाल करता हु।) इब्ने माजा 925

Rizk ki Dua In Hindi

“अल्लाहुम्मा ईन्नी असलुका ईल्मन नाफिआ, व रिज़कना तैय्यबा वा अमलन मुतक़ब्बला”

Rizk ki Dua In English

Allahumma inni Asaluka ilman Nafiaa, Wa Rizqan Tayyiba Wa Amalan Mutaqabbala

रिज्क की दुआ का तर्जुमा

(ऐ अल्लाह ! मैं तुझसे नफा देने वाले इल्म और पाकीज़ा रिज़्क़ और क़बूल होने वाले अमल का सवाल करता हु।)

दोस्तों आज हमने इस आर्टिकल की मदद से जाना की Rizk Ki Dua के लिए हदीस मे क्या रिवायात है और इसका पढ़ना कितना अहम है इसलिए हम सबको चाहिए इस दुआ को रिज्क और इल्म की बढ़ोतरी के लिए इस दुआ पढे।

नाज़रीन खाने में रिज्क की बढ़ोतरी चाहते है तो Khana Khane se Pahle aur Khana Khane ke Baad ki Dua जरुर पढ़ना चाहिए

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment