Naye Saal Ki Dua | इस्लाम में नए साल की दुआ

अस्सलामु अलैकुम दोस्तों उम्मीद है की आप सब खैरियत से होंगे, आज हम आपके लिये लेकर आए Naye Saal Ki dua इस दुआ को कब पढ़ना चाहिए।

दोस्तों हमारा नया साल मोहर्रम का महीना है, इस दुआ को मोहर्रम का चाँद देखते ही पढ़नी चाहिए। जब नए साल की शुरुआत होती तो सहाबा इस दुआ को पढ़ते थे।


Naye Saal Ki Dua In Hindi

अल्लाहुम्मा अदखिलहु अलैना बिल अमनि वल इमानि वस सलामति वल इस्लामि व-रिजवानिम मिनर-रहमानी व-जिवारिम मिनश-शैतान

इस्लाम के नए साल की दुआ का तर्जुमा

या अल्लाह! इसको हम पर अमन-ओ-ईमान और सलामती के साथ रहमान की ख़ुशनुदी और शैतान से हिफ़ाज़त के साथ लाए

Naye Saal Ki Dua In Roman English

ALLAHUMMA ADKHILHU ALAINA BIL AMNI WAL IMANI WAS-SALAMATI WAL-ISLAMI WA-RIZWANIM-MINAR-REHMANI WA-JIWARIM MINASH-SHAITAN

दोस्तों आज आपने सीखा की Naye Saal Ki dua क्या होती है और इस दुआ को कब पढ़ना चाहिए आज आपने इसके बारे मे भी जाना।

दोस्तों हमारा न्यू ईयर मोहर्रम का महीना है और हमे इस पैगाम को दूसरों तक भी पहुंचाना चाहिए क्यूंकी हमारे मुसलमान भाई-बहन जनवरी को अपना नया साल समझते है।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment