Magfirat ki Dua | मगफिरत की दुआ हिंदी में

अस्सलामु अलैकुम नाज़रीन, आज मेरी टीम ने आप सभी के लिए Magfirat ki Dua की लेकर हाज़िर हुआ है. जिसकी मदद से अपनी गुनाहों की माफ़ी मांग सकते है।

जब हम से गुनाह हो जाते है तो हम अल्लाह से जब सच्ची तौबा करते है तो अल्लाह हमारे पिछले तमाम गुनाहों को बख्श देते है इसे ही मगफिरत कहते है।

जिसके लिए मगफिरत और Astaghfar ki Dua को सिदक दिल से पढ़ते है।


Magfirat ki Dua In Hindi

रबबना ज़लम-ना अनफु-सना व-इल्लम तग़फिर लना व तर-हमना लना कूनन्ना मिनल खासिरीन

मगफिरत की तर्जुमा

Aye Humare Rab! Hum Ne Apne Upar Zulm Kiya, Aur Agar Tu Ne Humen Maaf Nahi Kiya Aur Hum Par Rahem Nahi Kiya ToYaqeenan Hum Zarur Nuqsaan Paane Walon Me Se Ho Jayenge.

Magfirat ki Dua In English

Rabbana Zalamna Anfusa’na Wa In Lam Taghfir Lana Wa Tarham’na Lanakunanna Minal Khaasireen

दोस्तों आज आपने जाना की Magfirat ki Dua क्या होती है, दोस्तों जब आप इस दुआ को हर नमाज़ के बाद पढ़ेंगे तो इनशाल्लाह अल्लाह आपके तमाम गुनाहों को बख्श देंगें। मगफिरत और अस्तगफार की फ़ज़ीलत बे-इनता है।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment