हर बीमारी से शिफा की दुआ | Bimari ki Dua

अस्सलामु अलैकुम दोस्तों, आज की पोस्ट में हर बीमारी से शिफा की दुआ कुरान पाक में है वो बताया जा रहा है। अगर आप लोग भी Bimari ki Dua की तलाश में है तो बिलकुल सही जगह पर आ गए है।

क्युकी यह पेट दर्द की दुआ, सर दर्द की दुआ और यहाँ तक के बुखार की दुआ जैसी बीमारी के लिए बहुत ही कारगर है किसी भी बीमारी से शिफा पाने के लिए यह दुआ काफी है।

बस यह दुआ पढ़ने से पहले आपकी नियत साफ़ होना चाहिए। तो चलिए जानते है की वह कौन सी दुआ है जो हर बीमारी को ठीक कर सकती है।

हर बीमारी से शिफा की दुआ

दोस्तों डॉक्टर के पास जरुर जाए लेकिन शुरू में कोई भी बीमारी हो सबसे पहले “आयते शिफा” जरुर पढ़े ले।

हर बीमारी से शिफा की दुआ

Bimari ki Dua In Hindi

कुल हुवा लिल्लज़ीना आ-मनू हूदन व शिफ़ाअ

हर बीमारी से शिफा पाने की दुआ तर्जुमा के साथ

फरमा दीजिए (मुहम्मद ﷺ) मोमिन के लिए कुरान हिदायत और शिफा है

Bimari se Shifa ki Dua In English

Qul Huwa Lil-lazeena Amanu Hudan Wa-Shifaa

हर बीमारी से शिफा की दूसरी दुआ

وَيَشْفِ صُدُورَ قَوْمٍ مُؤْمِنِينَ
وَإِذَا مَرِضْتُ فَهُوَ يَشْفِينِ
 وَشِفَاءٌ لِمَا فِي الصُّدُورِ وَهُدًى وَرَحْمَةٌ لِلْمُؤْمِنِينَ
فِيهِ شِفَاءٌ لِلنَّاسِ
وَنُنَزِّلُ مِنَ الْقُرْآنِ مَا هُوَ شِفَاءٌ وَرَحْمَةٌ لِلْمُؤْمِنِينَ وَلَا يَزِيدُ الظَّالِمِينَ إِلَّا خَسَارًا
قُلْ هُوَ لِلَّذِينَ آمَنُوا هُدًى وَشِفَاءٌ


दोस्तों ये ६ आयत कुरान पाक की है जिनके किसी भी बीमारी से शिफ़ा पाने की लिए पढ़ा जाता है, अगर आप किसी बीमारी से शिफ़ा चाहते है तो आप इस दुआओ को पढ़ सकते है।

दुआ पढ़ने का तरीका

दोस्तों किसी भी दुआ को पढ़ने से पहले हम लोगों को चाहिए पांचों वक़्त की फर्ज नमाज़ पढे, उसके बाद ही सारी दुआ काम करेगी।

इस दुआ को पढ़ने का तरीका ये है, आप इन दुआ को पांचों फर्ज नमाज़ के बाद सबसे पहले ३ मर्तबा दुरूद शरीफ पढे उसके बाद आप इस दुआ को ७ या ११ मर्तबा पढे और फिर दुआ पढ़ने के बाद भी ३ बार दुरूद शरीफ पढे।

इसके बाद अपने ऊपर दम कर ले या अगर आप अपने बच्चे के लिए पढ़ना चाहते है तो आप पानी पर दम करके आप आप उस पानी को पीला सकते है और अल्लाह से अपने और उनके हक्क मे दुआ करे इनशाल्लाह हर बीमारी से शिफ़ा होगी।

बीमारी से शिफा की दुआ के कई फायदे हैं, जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं:

  • यह अल्लाह से शिफा की गुहार लगाने का एक तरीका है। जब हम बीमार होते हैं, तो हम अल्लाह से शिफा मांगने के लिए दुआ करते हैं। दुआ करने से हमें अल्लाह की रहमत और मदद मिलती है।
  • यह हमारे दिल और दिमाग को सुकून देती है। जब हम बीमार होते हैं, तो हम चिंतित और परेशान हो जाते हैं। दुआ करने से हमें मानसिक शांति और सुकून मिलता है।
  • यह हमें उम्मीद देती है। जब हम बीमार होते हैं, तो हमें उम्मीद खोने लगता है। दुआ करने से हमें आशा और सकारात्मकता मिलती है।
  • यह हमें बीमारी से लड़ने की ताकत देता है। जब हम बीमार होते हैं, तो हमें कमजोरी और थकान महसूस होती है। दुआ करने से हमें बीमारी से लड़ने की ताकत मिलती है।

आज अपने क्या सीखा?

दोस्तों आज हमने इस पोस्ट की मदद से जाना की हर बीमारी से शिफ़ा की दुआ क्या होती है और इस दुआ को कैसे पढ़ा जाता है।

दोस्तों आप बताये की यह दुआ आप सभी को कैसा लगा। मुझे उम्मीद है की हर बीमारी से शिफा की दुआ बेहद पसंद आया होगा क्युकी इसमें हिंदी और इंग्लिश के अलावा बहुत अच्छी इमेज भी दिया गया है। जिससे याद करने और पढ़ने में कही भी किसी किस्म की गलती नहीं होगी।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment