Ayatul Kursi ki Dua | Ayatul Kursi ki Fazilat

अस्सलमु आलेकुम मेरे दोस्तों उम्मीद है आप सब अच्छे से होंगे, आज हम इस पोस्ट की मदद से हम आपको बताएंगे की Ayatul Kursi ki Dua क्या होती है और इस को पढ़ने की फ़ज़ीलत क्या है।

दोस्तों Ayatul Kursi पढ़ने की बहुत फ़ज़ीलत है, इसके बार मे हमरे प्यारे नबी ने फरमाया: अल्लाह के नबी का इरशाद है की जो कोई भी हर फर्ज के नमाज के बाद एक मर्तबा आयतुल कुर्सी पढ़ले तो उसकी जन्नत में दाखिल होने में सिवाय मौत के कोई कोई चीज आर नहीं .जो भी बंदा इस दुनिया में जाएगा उसे डायरेक्ट जन्नत में दाखिला किया जाएगा।


Ayatul Kursi ki Dua in Hindi

अल्लाहु ला इलाहा इल्ला हुवल हय्युल क़य्युऊम. ला ताखुजुहु सिनतुन वला नौम. लहू मा फिस्समावाती वमा फिल अरज़ि मन ज़ल लज़ी यशफउ इन्दहु इल्ला बिइज़्निही यालमु मा बैना ऐदीहिम् वमा खलफहुम वला युहीतूना बिशैयिम मिन इल्मिही इल्ला बिमा शाआ वसिआ कुरसिययुहुस समावाती वल अर्ज़ा वला ययुदुहु हिफ्जुहुमा वहुवल अलिय्युल अज़ीम.


Ayatul Kursi ki Dua in English

Allāhu lā ilāha illā huw, al-ḥayyul-qayyụm, lā ta`khużuhụ sinatuw wa lā na`ụm, lahụ mā fis-samāwāti wa mā fil-arḍ, man żallażī yasyfa’u ‘indahū illā bi`iżnih, ya’lamu mā baina aidīhim wa mā khalfahum, wa lā yuḥīṭụna bisyai`im min ‘ilmihī illā bimā syā`, wasi’a kursiyyuhus-samāwāti wal-arḍ, wa lā ya`ụduhụ ḥifẓuhumā, wa huwal-‘aliyyul-‘aẓīm


Ayatul Kursi ka Tarjuma

अल्लाह जिसके सिवा कोई माबूद नहीं
वही हमेशा जिंदा और बाकी रहने वाला है
न उसको ऊंघ आती है न नींद
जो कुछ आसमानों में है और जो कुछ ज़मीन में है सब उसी का है
कौन है जो बगैर उसकी इजाज़त के उसकी सिफारिश कर सके
वो उसे भी जनता है जो मख्लूकात के सामने है और उसे भी जो उन से ओझल है
बन्दे उसके इल्म का ज़रा भी इहाता नहीं कर सकते सिवाए उन बातों के इल्म के जो खुद अल्लाह देना चाहे
उसकी ( हुकूमत ) की कुर्सी ज़मीन और असमान को घेरे हुए है
ज़मीनों आसमान की हिफाज़त उसपर दुशवार नहीं
वह बहुत बलंद और अज़ीम ज़ात है


आज अपने क्या सीखा?

आज हमने इस आर्टिकल की मदद से हमने जाना की Ayatul Kursi ki Dua क्या होती है, और इस दुआ को पढ़ने की कितनी फ़ज़ीलत है।

दोस्तों हमे चाहिए पाँच वक़्त की नमाज़ का एहतमाम करे और इस दुआ को हर नमाज़ के बाद पढे, इसके अलावा आप इस दुआ को आप सोने से पहले सोने की दुआ पढे उसके बाद इस दुआ को भी पढे इनशाल्लाह आप हर बाल से महफूज रहेंगे।

इस पोस्ट को दोस्तों के साथ शेयर करे:
Bilal Ahmad

इस्लामकादुआ.कॉम एक इस्लामिक वेबसाइट है जो बिलाल अहमद द्वारा 2023 में शुरू की गई है, ताकि दुनिया भर के लोगो तक ऑथेंटिक इस्लामिक दुआएं, और जानकारी हदीस की रौशनी में पहुंचाई जा सके।

Leave a Comment